Feedback!

शेमरॉक फाउंडेशन स्कूल में माताओं और शिक्षकों के लिए गाइनी (स्त्री रोग) कैम्प आयोजित

शेमरॉक फाउंडेशन स्कूल में माताओं और शिक्षकों के लिए गाइनी (स्त्री रोग) कैम्प आयोजित

जीरकपुर, 8 मई, 2018: पारस ब्लिस हॉस्पिटल, पंचकूला द्वारा आज यहां शेमरॉक फाउंडेशन स्कूल के विद्यार्थियों की माताओं और  शिक्षकों के लिए बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) और गाइनी कैम्प आयोजित किया गया। कैम्प में स्कूल स्टूडेंट्स की 50 से अधिक माताओं और महिला कर्मचारियों की जांच की गई। इस कैम्प को मातृ दिवस समारोह के हिस्से के रूप में आयोजित किया गया था।

कैम्प का आयोजन माताओं की नियमित गाइनी और बीएमआई जांच-अप और स्वस्थ जीवन के बारे में जागरूक करने के लिए किया गया था। डॉ.रावीना वर्मा, गाइनोकॉलोजिस्ट (स्त्री रोग विशेषज्ञ), पारस ब्लिस हॉस्पिटल, ने कहा कि ‘‘मातृत्व एक शौक नहीं है बल्कि ये चुनौतीपूर्ण है, इसलिए महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के बारे में अधिक देखभाल करने की आवश्यकता है। इन दिनों गलत खानपान, तनाव, काम का दबाव, गर्भावस्था के दौरान लापरवाही, उच्च रक्तचाप और शुगर के अधिक स्तर के कारण मातृ मृत्यु दर उच्चतम स्तर पर है। इसलिए इन सब परिस्थितियों े बारे में महिलाओं के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए इस कैम्प का आयोजन किया गया है।’’

डाइटीशियन आशिमा चोपड़ा, पारस ब्लिस हॉस्पिटल ने कहा कि ‘‘स्वस्थ महिलाओं का मतलब स्वस्थ समाज है, और वे घरेलू काम के कारण अक्सर अपने स्वास्थ्य की उपेक्षा करती हैं। स्वस्थ आहार एक ऐसा पहलू है जो कि अत्याधिक महत्वपूर्ण है, और इस कैम्प का आयोजित करने का एकमात्र उद्देश्य ना सिर्फ उनके स्वास्थ्य की जांच करना है बल्कि उन्हें अपने स्वास्थ्य की देखभाल करने के बारे में भी जागरूक करना है।

श्रीमती चेतन बंसल, स्कूल प्रिंसिपल ने कहा, मां परिवार में सबसे अधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं और शेमरॉक स्कूल में मातृत्व का सम्मान किया जाता है और इसका उत्सव हमेशा से मनाया जाता रहा है। उन्होंने कहा, चूंकि मातृ दिवस का मौका है, इसलिए स्कूल ने इस बार एक नया कैम्प आयोजित करके इसे अलग तरीके से मनाने का फैसला किया ताकि वहां पर माताएं और अन्य महिलाएं अपने स्वास्थ्य की जांच करवाने का मौका प्राप्त कर सकें।

Call
Us
Paras Bliss Guraon
0124-4585555
Paras Bliss Panchkula
0172-5054441
`