पारस एचएमआरआई हाॅस्पीटल में उच्चस्तरीय इंमरजेंसी सेवा की वजह से बचाई 21 वर्ष की दिव्या की जान