Feedback!

जल्द मां बनने जा रही महिलाओं के लिए योग फायदेमंद; प्रसव दर्द को कम करने में सहायक है योग

जल्द मां बनने जा रही महिलाओं के लिए योग फायदेमंद; प्रसव दर्द को कम करने में सहायक है योग

पारस ब्लिस में जल्द मां बनने जा रही महिलाओं के लिए प्रसवपूर्व योग सत्र

पंचकूला, 23 जून, 2018: योग दिवस समारोहों के जारी उत्सव में पारस ब्लिस हॉस्पिटल ने आज यहां हॉस्पिटल में जल्द मां बनने जा रही महिलाओं के लिए एक प्रसवपूर्व योग सत्र आयोजित किया। योग प्रशिक्षक ने एक घंटे के सत्र में महिलाओं की गर्भवती महिलाओं को प्रसवपूर्व योग सिखाया। प्रसवपूर्व योग सत्र से प्रसव से पूर्व गर्भवती महिलाओं को अपनी सांस लेने की प्रक्रिया में सुधार करने, तनाव और चिंता के स्तर को कम करने में मदद मिली।

डॉ. शिल्वा, सीनियर कंसल्टेंट ऑब्स्टेट्रिक्स एंड गायनकोलॉजी, पारस ब्लिस हॉस्पिटल, ने जल्द प्रसव से मां बनने जा रही महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि ‘‘गर्भावस्था के दौरान योग बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि इससे महिलाओं को गर्भावस्था से कम असुविधा के साथ जाने में मदद मिलती है। यह गर्भावस्था और पोस्ट डिलीवरी के दौरान पोस्ट में भी मदद करता है। योग करने वाले महिलाओं की अपेक्षा नियमित रूप से मन और शरीर दोनों में स्वस्थ होती है। इससे उन्हें अधिक लचीला बनने में मदद मिलती है जो उन्हें श्रम के दौरान विभिन्न स्थितियों के अनुकूल बनाने में मदद करता है और लिंगामेंट्स अधिक लचकदार हो जाते हैं, जो प्रसव के दर्द को कम करने में मदद करता है।’’

उन्होंने कहा कि ‘‘क्योंकि जब एक महिला प्रसव की अवधि तक पहुंचती है और जैसे जैसे बच्चा बढ़ता है, यह आपके शरीर में विशिष्ट मांसपेशियों पर अधिक तनाव डालता है। गर्भवती महिलाओं के बीच पीठ के निचले हिस्से में काफी पीठ दर्द देखा जाता है। पेट में बच्चे के वजन के कारण कूल्हों में भी कसाव आ जाता है। गर्भावस्था के दौरान स्तन के आकार में वृद्धि के कारण, छाती और ऊपरी हिस्से गर्दन और कंधों के साथ अधिक परेशान हो जाती है। योग आपको अपनी मांसपेशियों को मजबूत करने और आपके शरीर को आराम करने में मदद करता है।’’

डॉ. मोनिका अग्रवाल, कंसल्टेंट ऑब्स्टेट्रिक्स एंड गायनकोलॉजी, पारस ब्लिस हॉस्पिटल ने कहा कि ‘‘प्रसवपूर्व योग आपको नींद में सुधार करने में मदद करता है, चिंता और तनाव को कम करता है। यह पीठ के निचले हिस्से में दर्द, सिरदर्द, सांस की तकलीफ, मतली आदि को कम करने में मदद करता है। प्रसवपूर्व योग खींचने, केंद्रित श्वास और मानसिक केंद्र को प्रोत्साहित करता है। प्रसवपूर्व योग श्वास तकनीक की मदद से गर्भावस्था के दौरान श्वास की कमी को कम करने में मदद मिलती है प्रसव के दौरान संकुचन के दौरान भी सहायक होता है।’’

Call
Us
Paras Bliss Guraon
0124-4585555
Paras Bliss Panchkula
0172-5054441
`