Feedback!

बच्चों को गर्मी से सुरक्षित रखने के लिए अधिक तरल पेय पीना चाहिए: डॉ.सौरभ

बच्चों को गर्मी से सुरक्षित रखने के लिए अधिक तरल पेय पीना चाहिए: डॉ.सौरभ

पंचकूला, 8 जून, 2018: गर्मी के मौसम की शुरूआत के साथ ही,  पारस ब्लिस हॉस्पिटल, पंचकूला ने बेहद पसीना लाने वाली गर्मी में लू यानि  हीट स्ट्रोक से बचाने के लिए बच्चों को लेकर अधिक सावधानी बरतने के लिए एक सलाह जारी की है।

डॉ.सौरभ गोयल, कंसल्टेंट, नियोनटोलॉजी, पारस ब्लिस हॉस्पिटल ने कहा कि गर्मी के दौरान, बच्चे अधिक खेलते हैं और उन्हें अधिक देखभाल और सुरक्षा की आवश्यकता होती है और निम्नलिखित कुछ उपायों  के साथ माता-पिता गर्मियों के दौरान अपने बच्चे का ख्याल रख सकते हैं।

डॉ. सौरभ ने कहा कि ‘‘बच्चों को सूर्य से सीधे संपर्क में आने से पहले सनस्क्रीन लगानी चाहिए और निर्जलीकरण से बचने के लिए घर से बाहर निकलने से पहले हमेशा अपने साथ पानी की बोतल लेनी चाहिए। गर्मियों में बच्चों को अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने और पीने के लिए नींबू के तरल आहार जैसे पानी, छाछ, नारियल  पानी आदि देना चाहिए। वहीं उन्हें गर्मी के फल आदि भी खिलाना चाहिए। बच्चों को कॉटन के कपड़ों से परहेज करना चाहिए और दिन में तेज धूप या तेज गर्मी वाले घंटों में नहीं खेलना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, माता-पिता यूवीआर इंटेसिटी को कम करने के लिए सन प्रोटेक्शन फैक्टर (एसपीएफ) ऑफ 15 या इससे अधिक को लगाना चाहिए ताकि बच्चों को सनबर्न से बचाव हो सके। सीधी धूप में आने से 15 से 30 मिनट पहले ही सनस्क्रीन को लगाना चाहिए। हर दो घंटे बाद सनसक्रीन को फिर से लगाना चाहिए।

डॉ.सौरभ ने कहा, आम तौर पर बच्चों को किसी भी गतिविधि से पहले लगभग 30 औंस पानी या तरल पदार्थ पीना चाहिए और निर्जलीकरण से बचने के लिए पेय ब्रेक लेना चाहिए। बच्चों को अक्सर सूखी, प्यास या मुंह खुजली, मांसपेशी में खिंचाव, सिरदर्द, चरम थकान, चक्कर आना, कमजोरी या प्रदर्शन में कमी का सामना करना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि ‘‘अपने बच्चों को उचित कपड़े और हैट या कैप आदि देकर तैयार करें। पूरे कपड़े पहनने से अल्ट्रावायलेट किरणों से सुरक्षा प्राप्त करने में मदद मिलती है और वे एक बाधा के तौर पर काम करते हैं। माता-पिता को सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच तेज धूप के घंटों में बाहरी गतिविधियों से बचना चाहिए।’’

उन्होंने कहा कि कि बच्चों को विशेष रूप से शिशुओं से तेज धूप में बाहर लेकर जाने से बचना चाहिए और सीधी धूप में खड़ी गर्म कार में इंतजार करने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे भी हीट स्ट्रोक  हो सकता है।

Call
Us
Paras Bliss Guraon
0124-4585555
Paras Bliss Panchkula
0172-5054441
`