PRESS RELEASE

Apr 25, 2022

पारस ग्लोबल हॉस्पिटल में अब आयुष्मान भारत के मरीजों का भी इलाज

पारस ग्लोबल हॉस्पिटल में अब आयुष्मान भारत के मरीजों का भी इलाज
  • आगामी 24 सितम्बर से शुरू होगा इलाज, जेनरल मेडिसीन, जेनरल सर्जरी और हृदय रोग के मरीजों का किया जायेगा इलाज
  • मरीज को अपने साथ आयुष्मान भारत का गोल्डेन कार्ड, प्रधानमंत्री कार्यालय का पत्र या राषन कार्ड में से कोई एक लेकर आना होगा

दरभंगा, 17 सितम्बर 2019 : पारस ग्लोबल हॉस्पिटल, दरभंगा में अब 24 सितम्बर से आयुष्मान भारत (प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना) के तहत जेनरल मेडिसीन, जेनरल सर्जरी तथा हृदय रोग के मरीजों का इलाज भी किया जायेगा। इलाज के लिए मरीजों को आयुष्मान भारत का गोल्डेन कार्ड, प्रधानमंत्री कार्यालय का पत्र या राशन कार्ड में से कोई एक लाना होगा। इस योजना के तहत पांच लाख रूपये तक का इलाज संभव है। यह जानकारी देते हुए हॉस्पिटल के यूनिट हेड श्री आशीष मुखर्जी ने बताया कि इसके लिए बिहार स्वास्थ्य समिति, पटना के साथ पारस ग्लोबल हॉस्पिटल का एक समझौता हुआ है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत इलाज के लिए आनेवाले मरीज के कागजात की ऑनलाइन जांच की जायेगी। जांच में सही पाये जाने पर ही इस योजना के तहत इलाज किया जायेगा।

श्री मुखर्जी ने कहा कि इस योजना के तहत ओ.पी.डी. सेवा का इलाज शामिल नहीं है। केवल भर्ती होने वाले मरीजों का इलाज इस योजना के तहत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगर कोई मरीज पेट या छाती के दर्द लेकर आता है और जांच में गॉल ब्लाडर स्टोन या हृदय रोग के अविलम्ब इलाज की आवश्यकता महसूस किये जाने पर उसे इमरजेंसी में भर्ती कर इलाज किया जा सकता है। इस योजना के तहत इलाज में मरीज को कोई रकम नहीं चुकानी पड़ेगी, साथ ही हॉस्पिटल से छुट्टी के समय उसे 15 दिनों तक की अग्रिम दवा भी उपलब्ध करायी जायेगी।